मुर्रा भैंस बना रही किसानों को करोड़पति, दिन में 20-30 लीटर दूध, इसके आगे बाकी बिजनेस फेल…

WhatsApp Group Join Now

Dairy Farm, Farming, Murrah buffalo is making farmers millionaires: क्या आप जानते हैं भैंस की एक ऐसी नस्ल भी है, जो किसानों और डेयरी फार्मिंग वालों को मालामाल कर दे रही है. जी हां डेयरी फार्मिंग वालों और किसानों को करोड़पति बना रही है. तो चलिए आपको विस्तार से बताते हैं आखिर मुर्रा ऐसी कौनसी नस्ल है, जो मालामाल कर दे रही है. खासतौर पर ये नस्ल हरियाणा में ज्यादा उसके बाद दिल्ली से लगते क्षेत्र औऱ यूपी में देखने को मिल जाती है.

Read Also:- 42 kmpl माइलेज और किलर लुक के साथ Maruti Baleno पड़ी सब पर भारी, जानिए डिटेल्स

मुर्रा भैंस बना रही किसानों को करोड़पति

Dairy Farm, Farming, Murrah buffalo is making farmers millionaires
Dairy Farm, Farming, Murrah buffalo is making farmers millionaires

आपने भैंसे तो देखी ही होगी, लेकिन शायद आप नहीं जानते भैंसों की भी एक खास नस्ल होती है. उन्ही में से एक है मुर्रा नस्ल की भैंस. आज के समय में यही भैंस किसानों और डेयरी वालों को मालामाल कर रही है. आखिर कैसे किसान कमाई कर रहे हैं आप यही सोच रहे होंगे. तो चलिए आपको बताते हैं.

Read Also:- 40 Kmpl माइलेज और Powerful Engine के साथ Maruti Suzuki Swift ने लगाई आग

देती हैं 20 से 30 लीटर दूध!

दरअसल ये भैंस दूसरी भैंसों से ज्यादा दूध देती है, लेकिन उनको खुराक भी दूसरी भैंसों ज्यादा दी जाती है. यही वजह है पशुपालकों या फिर किसानों के मालामाल होने की, ये भैंस ज्यादा दूध देती है जिससे दूध बेचकर कमाई ज्यादा होती है. लोगों ने आज के समय में डेयरी को ही बिजनेस बना लिया है. तो चलिए आपको बताते हैं ये भैंस ज्यादा कहां पाई जाती है.

Read Also:- Hero Karizma XMR ने कटप्पा लुक के साथ सबकी उड़ाई हवाइयां, 210cc का मात्र इंजन

मुर्रा नस्ल

बता दे की मुर्रा भैंस की ये नस्ल काफी फैमस है साथ ही ये भैंस ज्यादा दूध देती है जिसकी वजह से भैंस पाला जाता है. ये भैंस  आपको हरियाणा के भिवानी, हिसार, रोहतक, जींद, झज्जर, फतेहाबाद, गुड़गांव और यूपी के आगरा समेत दिल्ली के राजधानी क्षेत्र में मिल जाएगी.

Read Also:- Honda Dio ने लेटेस्ट फोटो और फीचर्स से लड़कियों को बनाया दीवाना, आप भी फटाफट देखें

जाफरबादी नस्ल

तो वहीं इसके बाद जाफराबादी भैंस का नाम आता है, इस भैंस को सबसे पहले गुजरात में देखा गया था. दुनिया में लगभग 25,000 जाफ़राबादी भैंसें हैं. यही नहीं ये भैंस भारत और पाकिस्तान की महत्वपूर्ण भैंस नस्लों में से एक मानी जाती है.

Read Also:- Maruti Wagno R 2024 बनी पापाओं की पहली पसंद, Classic लुक के साथ कमाल के फीचर्स